Om Shanti Om (Star Bharat)

Om Shanti Om Serial

Genre Reality show
No. of seasons 1
No. of episodes 27
Producer(s) Pankaj Narayan/Apoorva Bajaj
Production location Mumbai
Original network Star Bharat
Original release 28 August – 26 November 2017

Om Shanti Om (ओम शांति ओम) Star Bharat channel का एक realty music show था जो कि भक्ति संगीत पर केंद्रित था। बाबा रामदेव इसके head judge थे जबकि कनिका कपूर और शेखर रवजियानी उनके सहायक judge थे। अपारशक्ति खुराना इस show को host कर रहे थे।

Om Shanti Om serial 28 अगस्त 2017 से 26 नवंबर 2017 तक चला था और इसके कुल 27 episodes बने थे। अगस्त 2018 में इसका दूसरा season भी आएगा।

पंकज नारायण की Art Entertainment company द्वारा इस show को produce किया गया था और पंकज नारायण ही इस show के creative director थे।

अगर आप ओम शांति ओम के सभी 27 Episodes देखना चाहते हैं, तो आप उन्हें Hotstar.com के इस link पर देख सकते हैं।

Motive of Om Shanti Om Show

इस Show का मकसद था कि नई generation को Show के माध्यम से भजन का ज्ञान दिया जाए। इस Show के जरिए Makers दर्शकों को Music की नई दुनिया दिखाना चाहते थे। बाबा रामदेव समय-समय पर ज्ञानवर्धक बातें बताते रहते थे और योग आसन भी कभी कभार करके दिखाते थे।

ओम शांति ओम के जरिए निर्माताओं ने युवाओं के लिए भक्ति संगीत को उस स्टाइल में परोसने की बेहतरीन कोशिश की है जिसे वो बोरिंग समझकर दूर होते जा रहे थे। Show में देश के कोने कोने से बेहतरीन संगीतकारों को बुलाकर मौका दिया गया था।

ये पहला मौका था जब बाबा रामदेव किसी शो में जज के तौर पर दिखाई दिए। उनके जैसे बड़े ब्रांड के show से जुड़ जाने के कारण कई लोगों को इसे देखने पर मजबूर होना पड़ा है। समय समय पर कई बड़ी हस्तियों को भी इस में guest के तौर पर बुलाया जाता रहा। सोनू निगम और शंकर महादेवन जैसे बड़े singers ने भी इस show में आकर चार चांद लगाए।

त्योहारों के लिए भी ख़ास तरह के episodes तैयार किए गए थे जिन्हें खूब सराहा गया। दिवाली के मौके पर मीत ब्रदर्स को आमंत्रित किया गया था जबकि नवरात्रि स्पेशल पर प्रीती-पिंकी ने अपनी आवाज़ का जादू बिखेरा।

Director पंकज का कहना है कुछ लोगों ने बॉलीवुड के हिट गानों की तर्ज पर धार्मिक गीत बनाने शुरू कर दिए थे। इस वजय से धार्मिक गीत प्रदूषित हो गए थे। लेकिन वो इस show के जरिए भजनों को इस तरह से प्रस्तुत करेंगे कि कोई मााता-पिता नहीं कहेंगे कि उनका बेटा या बेटी भजन नहीं गाते।

Leave a Reply

error: Content is protected !!