Oedipus Rex – राजा जो बन जाता है अपनी मां का पति !

Oedipus Rex एक tragedy है जिसे Sophocles द्वारा लिखा गया है। Sophocles (सोफोक्लीज़) प्राचीन ग्रीक के एक लेखक थे जिनका समय 496 ईसापूर्व से 405 ईसापूर्व तक का माना जाता है। Oedipus Rex पहली बार 429 ईसापूर्व के आसपास perform किया गया था।

oedipus rex hindi

Oedipus Rex

Oedipus Rex को Oedipus Tyrannus और Oedipus the King भी कहा जाता है। कहानी का मुख्य पात्र Oedipus (ईडीपस) राजा है।

Oedipus Rex in Hindi on YouTube

Summary of Oedipus Rex in Hindi – ईडीपस रेक्स का सार

Oedipus प्राचीन ग्रीक के एक राज्य Thebes (थीबस) का राजा होता है। एक बार उसके राज्य में प्लेग की महामारी फैल जाती है। लोग अपनी समस्या लेकर राजा के पास आते है कि अगर जल्द ही राजा ने कुछ नही किया तो प्लेग की वजह से पूरा राज्य तबाह हो जाएगा। Oedipus को इस बात की खब़र होती है और वो पहले ही अपने साले Creon (क्रेओन) और पत्नी Jocasta (जोकास्टा) को अपोलो की वाणी (Oracle of Apollo) के पास इसका कारण जानने के लिए भेज देता है।

प्राचीन ग्रीक मिथकों में Oracle of Apollo (अपोलो की वाणी) एक दैव्य शक्ति है जो किसी व्यक्ति द्वारा पूछे गए प्रश्नों के उत्तर देती है। मिथकों के अनुसार ‘Oracle of Apollo’ Delphi (डेल्फी) के मंदिर में स्थित है।

जब Creon और Jocasta अपोलो की वाणी से इसका कारण जानकर आते है तो वो बताते है कि प्लेग राजा Laius की हत्या के कारण फैली है और जब तक राजा Laius के कातिल को सज़ा नही हो जाती प्लेग दिन ब दिन फैलती ही जाएगी। राजा Laius Oedipus से पहले Thebes का राजा था जिसकी मौत के बाद Oedipus को राजा बनाया गया क्योंकि उसने Thebes को एक खत़रनाक दैत्य Sphinx (सफिंक्स) से बचाया था।

Oedipus पूरे राज्य में ऐलान करवा देता है कि जो भी राजा Laius के हत्यारे के बारे में जानकारी देगा उसे ईनाम दिया जाएगा और जिसने उसे बचाने की कोशिश की उसे कड़ी सज़ा दी जाएगी।

राजा Laius के हत्यारे को ढूंढने के लिए एक अंधे सिद्ध पूरुष थैरीसीयस (Teiresias) की सहायता ली जाती है। थैरीसीयस Oedipus को कहता है कि उसकी भलाई इसी में है कि राजा Laius की हत्या का सच उसे पता ना चले। Oedipus के बहुत जोर देने पर वो बताता है कि Thebes की सारी समस्याओं की जड़ Oedipus ही है क्योंकि उसी ने राजा Laius की हत्या की थी।

Oedipus अंधे थैरीसीयस की इस बात पर भड़क जाता है और उस पर आरोप मढ़ने लगता है कि वो Creon के साथ मिला हुआ है जो उसे राजगद्दी से हटाना चाहता है।

थैरीसीयस आगे कहता है कि Oedipus को बहुत शर्म आएगी जब उसे अपनी असली मां – बाप के बारे में पता चलेगा।

Oedipus थैरीसीयस को जाने को कह देता है और फिर Creon से झगड़ा करने लगता है कि वो उसे राज गद्दी से हटाने की साजिस कर रहा है। Oedipus Creon को मारने की धमकी भी दे देता है पर उसकी पत्नी और अन्य लोग दोनों में झगड़ा आगे नही बढ़ने देते।

अपने पती और भाई की दुश्मनी से दुखी होकर Jocasta Oedipus को एक भविष्यवाणी के बारे में बताती है। Jocasta Oedipus को बताती है कि भविष्यवाणी के अनुसार राजा Laius की हत्या उसी के पुत्र द्वारा होगी, पर यह संभव नही है क्योंकि उन्होंने अपने नौकर को अपने बच्चे की हत्या करने का आदेश दे दिया था। Jocasta यह भी बताती है कि Laius की हत्या Oedipus के Thebes आने से कुछ ही दिन पहले Phocis (Phocis) के पास मिलने वाले तीन रास्तों के पास लुटेरों ने कर दी थी।

जब Jocasta यह कहती है कि Laius की हत्या Phocis के पास मिलने वाले तीन रास्तें की पास वाली जगह पर हुई थी तो Oedipus का माथा ठनक जाता है क्योंकि उसने भी Thebes आने से कुछ दिन पहले एक हल्की मुठभेड़ में वहां पर कुछ लोगों की हत्या कर दी थी।

Oedipus Jocasta को अपने बारे में बताता है कि वो पड़ोस के राज्य कोरिंथ (Corinth) के राजा पॉलीबस (Polybus) और रानी मेरोपे (Merope) का बेटा है पर एक दिन जब एक शराबी व्यक्ति ने उसे बताया कि वो राजा रानी का सगा बेटा नही बल्कि गोद लिया बेटा है तो वो चिxतित हो गया। Oedipus अपोलो की वाणी के पास सारा सच जानने के लिए गया, अपोलो ने उसे यह तो नही बताया कि उसके मां बाप कौन है पर यह जरूर बता दिया कि वो अपने बाप का हत्यारा होगा और अपनी मां का पति बनेगा।

Oedipus अपोलो की वाणी से डर खाकर हमेशा के लिए कोरिंथ छोड़ने का फैसला लेता है और Thebes जाने की तैयारी करता है। (Oedipus शराबी व्यक्ति की बात को गंभीरता से नही लेता है और वो अभी भी अपने माता पिता कोरिंथ के राजा रानी को ही मानता है।)

Oedipus आगे बताता है कि जब वो Thebes आ रहा होता है तो Phocis के पास मिलने वाले तीन रास्तों के पास कुछ लोग उसका अपमान कर देते है जिसकी वजह से वो उन सब की हत्या कर देता है, पर एक व्यक्ति बचकर भाग जाता है। उसके बाद उसका सामना Thebes आते समय राक्षस शफिंक्स से होता है जिसने Thebes के वासियों को परेशान कर रखा होता है। Oedipus सफिंक्स (Sphinx) की पहेली का सही जवाब देकर उसे शांत कर देता है और Thebes के लोग उसे अपना होरो मान लेते है। क्योंकि कुछ दिन पहले उनके राजा Laius की हत्या हो चुकी होती है इसलिए Thebes के लोग Oedipus को राजा बना देते है और Jocasta का हाथ उसे दे देते है।

sphinx in hindi

Sphinx

Sphinx प्राचीन ग्रीक मिथकों में एक ऐसा राक्षस है जिसके शरीर का निचला भाग शेर का होता है और ऊपरी भाग महिला के शरीर का (ऊपरी चित्र देखें)। Oedipus रेक्स मे शफिंक्स Thebes आने वाले हर व्यक्ति से एक पहेली पुछती है और अगर वो पहेली का सही जवाब नही दे पाता तो वो उसे मार देती है। पर Oedipus उसकी पहेली का सही जवाब दे देता है और वो शांत होकर शहर से चली जाती है।

Oedipus उस नौकर को बुलावा भेजता है जिसने राजा Laius की हत्या की जानकारी दी थी। दरासल यह नौकर वही है जो Laius के साथ उस समय मौजूद था जब उसकी हत्या की गई थी, पर वो अकेला जान बचाकर भाग आया था। Oedipus उसका बेफिक्री से इंतज़ार करता है और इधर Jocasta को किसी तरह की भविष्यवाणी में कोई विश्वास नही होता।

तभी कोरिंथ से एक संदेशवाहक यह संदेश लेकर आता है राजा पॉलीबस की मृत्यु हो गई है और ईडीपस उनका अगला उत्तराधिकारी है। राजा पॉलीबस की मृत्यु प्राकृतिक कारणों से हुई होती है इसलिए Oedipus को राहत मिलती है क्योंकि उससे अपने पिता की हत्या नही हुई (Oedipus उस समय तक भी यह मान रहा होता है पॉलीबस उसका पिता है)। लेकिन Oedipus कोरिंथ जाने से मना कर देता है क्योंकि उसे डर के वो किसी तरह अपनी मां का पति ना बन जाए।

संदेशवाहक तभी इस सच को उजागर करता है कि Oedipus राजा पॉलीबस और रानी मेरोपे का सगा पुत्र नही है बल्कि उसने (संदेशवाहक) अपने एक मित्र से उसे लिया था जो कि राजा Laius के यहां नौकर था। उस समय संदेशवाहक एक चरवाहा हुआ करता था और उसकी राजा Laius के एक नौकर के साथ उसकी दोस्ती थी। जब संदेशवाहक के दोस्त ने नवजात Oedipus को उसे सौंपा तो संदेशवाहक ने उसे अपने राज्य कोरिंथ के राजा पॉलीबस और रानी मेरोपे को दे दिया क्योंकि उनकी कोई संतान नही थी। खुश होकर राजा पॉलीबस ने चरवाहे (संदेशवाहक) को अपने यहां एक बड़ी नौकरी दे दी। (ध्यान देने वाली बात है कि राजा Laius के नौकर से बच्चा लेते वक्त चरवाहे (संदेशवाहक) को लगा था कि यह उसी नौकर का बेटा है जो अपने बच्चे का पालन नही कर सकता।)

जब Jocasta संदेशवाहक की सारी बातो को सुनती है तो उसे सारी सच्चाई पता चल जाती है कि Oedipus ने ही राजा Laius की हत्या की थी और वो ही उसका पुत्र है जो भविष्यवाणी के अनुसार उसका पति बन बैठा। Jocasta अंदर से बहुत टूट जाती है और कमरे के अंदर चली जाती है, वो उस नौकर के आने का इंतज़ार भी नही करती जो Laius की हत्या के वक्त जिंदा बच आया था।

इधर Oedipus किसी भी कीमत पर सारी सच्चाई जानना चाहता है। वो उन दो नौकरों को फौरन पेश होने के लिए कहता है जिनमें से एक राजा Laius की हत्या के समय जिंदा बचकर भाग आता है और दूसरा जिसने राजा Laius से उनका पुत्र लेकर उसकी हत्या की। वो दरासल दो नही बल्कि एक ही नौकर होता है जो काफ़ी बूढ़ा हो जाता है।

जब वो बूढ़ा नौकर Oedipus के सामने पेश होता है तो संदेशवाहक फौरन उसे पहचान लेता है कि उसने उसी बूढ़े नौकर से नवजात Oedipus को लेकर राजा पॉलीबस को सौंपा था। जब बूढ़ा नौकर सारा सच बताता है कि जब राजा Laius ने अपने बच्चे को मुझे मारने के लिया दिया, तो मुझे उस छोटे से बच्चे पर तरस आ गया और मैंने उसे मारने की बजाय अपने चरवाहे दोस्त को दे दिया।

Oedipus सारी सच्चाई जान जाता है और अंदर बेहद गलानि से भर जाता है। वो गुस्से में Jocasta के पास जाता है पहले सच्चाई पता चलने पर उसने बताया क्यों नही। पर जब वो Jocasta के कमरे में जाता है तो उसे फांसी के फंदे से लटकी मिलती है। Jocasta ने अपने ही बेटे के पति होने के कारण गलानिवश अपनी आत्महत्या कर ली थी।

इधर Oedipus अपने आपको भी दोषी मानता है और अपनी दोनों आंखे फोड़ देता है सारे Thebes वासियों को यह सच्चाई बता देता है कि वही राजा Laius का हत्यारा है जिसके कारण उसे सज़ा मिलनी चाहिए।

इसके बाद Oedipus को Thebes से बाहर निकाल दिया जाता है। अंधा Oedipus पूरी जिंदगी दर – दर की ठोकरें आता रहता है और एक दिन बूढ़ापे में आकाशी बिजली लगने के कारण उसकी मृत्यु हो जाती है।

9 Comments

  1. Baljeet singh August 13, 2018
    • simran August 29, 2019
  2. nayansalat November 13, 2017
  3. sumit chandel August 14, 2017
    • Site Admin August 14, 2017
      • sumit chandel August 14, 2017
        • Site Admin August 14, 2017
  4. S. K. Mukherjee July 9, 2017
    • Site Admin July 9, 2017

Leave a Reply

error: Content is protected !!